Img 20220412 191344

अखिल भारतीय कायस्थ महासभा और रांची रिवोल्ट – जनमंच का शत्रुघ्न सिन्हा के पक्ष में सघन प्रचार अभियान : शॉटगन को जिताने की अपील (by election)

Img 20220412 191344रिपोर्ट- विजय दत्त पिंटू

चुनावी विश्लेषक कर रहे बिहारी बाबू की जीत के दावे

by election

आसनसोल: अखिल भारतीय कायस्थ महासभा एवं रांची रिवोल्ट – जनमंच के द्वारा देश के कद्दावर राजनेता बिहारी बाबू एवं शॉट गन के नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा के पक्ष में उनके निर्वाचन क्षेत्र आसनसोल के उपचुनाव में सघन प्रचार अभियान चलाया गया। ज्ञातव्य हो शत्रुघ्न सिन्हा अखिल भारतीय कायस्थ महासभा एवं रांची रिवोल्ट – जनमंच के राष्ट्रीय संरक्षक भी हैं। अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह रांची रिवोल्ट – जनमंच के संयोजक डॉ. प्रणव कुमार बब्बू, कॉरपोरेट विंग के राकेश रंजन बबलू के नेतृत्व में पूरे आसनसोल क्षेत्र में घर घर जाकर सघन प्रचार अभियान चलाया गया।

रोपवे मामले पर झारखंड हाई कोर्ट (High court)ने लिए स्वतः संज्ञान

ज्ञातव्य हो विगत दिनों भाजपा भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो के पार्टी छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने एवं बालीपुर लोकसभा के सांसद के निधन के पश्चात खाली हुए सीटों पर उपचुनाव में तृणमूल कांग्रेस से आसनसोल लोकसभा क्षेत्र के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रत्याशी के रूप में श्री सिन्हा के नाम की घोषणा की।

अपने बेबाक व्यक्तित्व के लिए जाने जाने वाले प्रखर वक्ता श्री सिन्हा के उपचुनाव में प्रत्याशी बनाए जाने पर कुछ लोगों ने उनके विरोध को बेहद आसान समझा मगर, जिस प्रकार से अपने चुनावी प्रचार में स्थानीय बंगाली भाषा में अपने भाषण और वक्तव्य से उन्होंने बड़े-बड़े चुनावी विश्लेषकों को चौंकाया यह बेहद दिलचस्प रहा।

बीजेपी छोड़कर शत्रुघ्न सिन्हा का यहाँ से तृणमूल कांग्रेस से चुनाव लड़कर जीतना एक बड़ा मैसेज देने का कार्य कर सकती है। बीजेपी को इस सीट पर शत्रुघ्न सिन्हा से एक डर पैदा हो गया है। बीजेपी इस सीट को अपनी प्रतिष्ठा की सीट बना चुकी है। बीजेपी इस सीट को कितनी गंभीरता से ले रही है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बीजेपी ने पूर्व मंत्री और पटना से जुड़े दोनों सांसदों रविशंकर प्रसाद और रामकृपाल यादव को शत्रुघ्न सिन्हा के खिलाफ में चुनाव प्रचार में लगाया है। इस सीट को भाजपा किसी भी कीमत पर शत्रुघ्न सिन्हा के पाले में जाते हुए नहीं देख सकती है।

आसनसोल में बीजेपी प्रत्याशी अग्निमित्र पॉल के काफिले पर हमला (attacked in bjp candidate )

1649772236716 01 1

वहीं दूसरी ओर शाटगन हमेशा की तरह अपनी जीत के प्रति आश्वस्त और निश्चिन्त मुद्रा में हैं। इस क्षेत्र में बिहार से जुड़े लोग भी इस सीट पर शत्रुघ्न सिन्हा के लिए अपनी प्रतिष्ठा की सीट बना कर जीत के लिए हर तरह से प्रयास में लगे हैं।

आज 11 अप्रैल को उपचुनाव के लिए जोरदार वोटिंग हो रही। विश्लेषकों की माने तो शत्रुघ्न सिन्हा के पक्ष में लोगों में जोरदार उत्साह देखा जा रहा है। चुनावी प्रचार में उनसे मिलने और उनके प्रत्याशी बनाए जाने से आसनसोल क्षेत्र के लोगों में भारी उत्साह देखा गया।

*64.3 प्रतिशत मतदान हुआ आसनसोल में अबतक*

तृणमूल कांग्रेस के तरफ से भी सघन प्रचार अभियान चलाया गया जिसमें लोगों की भारी समर्थन मिलने की बात मीडिया के माध्यम से सामने आई, कई चुनावी विश्लेषक श्री सिन्हा के जीतने की संभावना ज्यादा बता रहे। एक आज छिटपुट घटनाओं को छोड़कर चुनाव शांतिपूर्ण रहा। समाचार लिखे जाने तक 64.38 फ़ीसदी मतदान की खबर थी।

और जिंदगी की जंग हार गया (lost the battle of life)

इसी क्रम में अखिल भारतीय कायस्थ महासभा, झारखंड प्रदेश के लोग भी शत्रुघ्न सिन्हा के चुनाव में बढ़-चढ़कर जोरदार ढंग से प्रचार प्रसार कर रहे हैं। अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ प्रणव कुमार बब्बू एवं कारपेट विंग झारखंड प्रदेश के अध्यक्ष राकेश रंजन बबलू के साथ-साथ रांची रिवोल्ट – जनमंच की टीम से विजय दत्त पिंटू, आकाश सिन्हा, सूरज सिन्हा, उपेंद्र कुमार बबलू,संतोष दीपक, जयदीप सहाय, नरेंद्र सिन्हा, सुकांतो कुमार सहित आसनसोल लोकसभा क्षेत्र में शत्रुघ्न सिन्हा के पक्ष में प्रचार प्रसार कर रहे हैं।

ऑपरेशन जिंदगी  कामयाब  Operation Zindagi successful

आसनसोल के कायस्थ महासभा स्थानीय निकाय संजय सिन्हा, बीके सिंह, संतोष सिन्हा, एसके श्रीवास्तव, मिलिंद घोष आदि तृणमूल छात्र परिषद के अभिनव मुखर्जी अर्पित राय आदि से समन्वय बनाकर आसनसोल, बर्नपुर कुल्टी, सलालपुर आदि जगहों में जनसंपर्क किया और शत्रुघ्न सिन्हा के पक्ष में वोट देने की अपील की।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES