बीजेपी नेता जीतराम मुंडा हत्याकांड का खुलासा, मनोज मुंडा ने दी थी यूपी के शूटर को सुपारी।

बीजेपी नेता जीतराम मुंडा हत्याकांड का खुलासा, मनोज मुंडा ने दी थी यूपी के शूटर को सुपारी।

22 सितंबर की शाम ओरमांझी थाना क्षेत्र में बीजेपी नेता जीतराम मुंडा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जीतराम मुंडा की हत्या की सुपारी मनोज मुंडा ने यूपी के शूटर डब्लू यादव को दी थी. इस मामले में एसएसपी सुरेंद्र झा के निर्देश पर गठित एसआईटी की टीम ने कार्रवाई करते हुए उत्तर प्रदेश के गाजीपुर से डब्लू यादव और रांची से कार्तिक मुंडा को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने दो बाइक, एक कार समेत कई अन्य सामान बरामद किये हैं. शूटर डब्ल्यू यादव साल 2015 के दौरान बनारस में एक छात्र नेता की हत्या के आरोप में जेल गया था. पांच साल जेल में रहने के बाद वह बाहर आया है.यूपी के शूटर को दी गई थी हत्या की सुपार।
इन्हे भी पढ़े :-सीसीएल कर्मी समेत तीन लोगों की दर्दनाक हत्या।
मनोज मुंडा की जीतराम मुंडा से पुरानी रंजिश चल रही थी. जिसे लेकर मनोज मुंडा ने जीतराम मुंडा की हत्या की साजिश रची थी. जीतराम की हत्या बनारस के रहने वाले बाबू साहब नाम के व्यक्ति ने शूटर डब्लू यादव से संपर्क किया और कहा कि झारखंड के रांची में एक व्यक्ति की हत्या करनी है, इसके एवज में तुम्हें पैसा मिलेगा. जिसके बाद बाबू साहब ने मनोज मुंडा का मोबाइल नंबर डब्लू यादव को उपलब्ध कराया. बनारस से रांची आने के लिए मनोज मुंडा के द्वारा गूगल पे के माध्यम से शूटर डब्ल्यू यादव के चचेरे भाई विवेक यादव के खाते में पांच हजार रूपये भेजा गया था. डब्लू यादव बीते 21 सितंबर को बनारस से रांची के लिए चला और 22 सितंबर को रांची पहुंचा. जिसके बाद मनोज मुंडा का रिश्तेदार कार्तिक मुंडा उसे लेकर मनोज के घर गय। बीते 22 सितंबर को ओरमांझी चौक पर भाजपा कार्यकर्ता द्वारा पुतला दहन कार्यक्रम आयोजित किया गया था. जिसमें जीतराम मुंडा भी शामिल थे. इसी कार्यक्रम में मनोज मुंडा ने शूटर डब्ल्यू यादव और बाबू साहब नाम के व्यक्ति को जीतराम मुंडा की पहचान कराई.
इन्हे भी पढ़े :-कैबिनेट के फैसलेः अब 244 करोड़ खर्च कर योगदा सत्संग आश्रम से कोकर शांतिनगर तक बनेगा कांटाटोली प्लाईओवर, लंबाई होगी 2240 मीटर
कार्यक्रम खत्म होने के बाद जीतराम मुंडा पालू स्थित आर्यन ढाबा पहुंचा और ढाबा के मालिक राजकिशोर मुंडा के साथ चाय पी. जिसकी रेकी कार्तिक मुंडा के द्वारा की गई और इसकी सूचना मनोज मुंडा और उसके सहयोगियों को उसने दी.शूटर डब्ल्यू यादव और बाबू साहब बाइक पर और मनोज मुंडा स्कूटी पर सवार होकर आये. शूटर डब्लू मुंडा डिवाइडर पारकर आर्यन ढाबा में आया और पास से जीतराम मुंडा के सिर पर सटाकर गोली मार दी. इस गोलीबारी में राजकिशोर मुंडा भी घायल हो गया. गोली मारने के बाद सभी अपराधी ओरमांझी ब्लॉक चौक की तरफ भाग निकले. हत्या की घटना में प्रयुक्त देशी कट्टा मनोज यादव के द्वारा बबलू यादव को उपलब्ध कराया गया था. हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद शूटर डब्लू मुंडा और बाबू साहब बनारस भाग गए.
इन्हे भी पढ़े :-कांग्रेस की विचारधारा क्या अब, बस मोदी को हटाने के लिए मोदी के खिलाफ बोलने वाले किसी भी तपके को लपक लेने तक सिमट कर रह गयी है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES