हेमंत सरकार आज तक की सबसे भ्रष्ट सरकार : अतुल कुमार अंजान (CPI)

Img 20220330 Wa0012रिपोर्ट : विजय दत्त पिंटू

रांची : भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी राज्य कार्यालय अल्बर्ट एक्का चौक रांची में, संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सह झारखंड प्रभारी अतुल कुमार अंजान ने अठ 28,29 मार्च को केंद्र सरकार के जनविरोधी नीतियों के विरोध में आम हड़ताल को सफल बताते हुए , शामिल तमाम क्रांतिकारी साथियों को अभिनंदन करते हुए कहा कि केंद्र सरकार तमाम सार्वजनि कल कारखानों को बेच रही है, जिसके विरोध में सभी श्रमिक संगठन ,संयुक्त किसान मोर्चा, किसान समन्वय संघर्ष समिति एवं तमाम जन सगठनों ने बहादुरी के साथ हड़ताल को सफल बनाया।

महंगाई पर रोक लगाने में विफल मोदी सरकार को सत्ता में बने रहने का हक नहीं : सुबोधकांत सहाय (Inflation)

उन्होंने कहा कि राज्य की जनता बहुत ही उम्मीद के साथ पूर्व की भाजपा सरकार को हटाकर राज्य में धर्मनिरपेक्ष हेमंत सोरेन के नेतृत्व में सरकार बनाने का मौका दिया । लेकिन ए सरकार झारखंड गठन से लेकर आज तक सबसे भ्रष्ट सरकार साबित हो रही है। राज्य के मुख्यमंत्री को राजनीतिक दलों एवं समाजिक सरोकार रखने वाले लोगों से मिलने तक की फुर्सत नहीं है । राज्य में खनिज संपदा, कोयला ,लोहा ,आयरन ओर, वन संपदा को बड़े पैमाने पर लुट हो रही है। एसपी के ट्रांसफर पोस्टिंग में करोड़ों रुपए की वसूली हो रही है। तो वीडियो सि ओ के ट्रांसफर पोस्टिंग में लाखों रुपए वसूल किए जा रहे हैं ।ढाई साल के सरकार में किसी भी आयोग और निगम का गठन नहीं हुआ। मुख्यमंत्री सारे पदों को अपने पास रखे हुए हैं। राज्य की जनता विस्थापन आग मे जल चल रही है। राज्य में विस्थापन आयोग, विस्थापन नीति, नियोजन नीति ,स्थानीय नीति सरकार नहीं बना पाई, सरकार राज्य की संपदा ओं की लूटने में मशगूल है। पूर्व की सरकार से भी बदतर सरकार साबीत हो रही है। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ने कहा की विस्थापन आयोग की गठन नहीं होने के कारण विस्थापितों को अधिकार नहीं मिल पा रहा है।

VIRAL NEWS – बैंक धोखाधड़ी की वजह से पिछले सात वर्षों में हर रोज करीब 100 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ

गैरमजरूआ और बन भूमि की लूट बड़े पैमाने पर हो रही है। राज्य मे नियोजन नीति नहीं होने के कारण युवा वर्ग के लोग ठगे महसूस कर रहे हैं । भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी झारखंड राज्य परिषद की 29, 30 मार्च को दो दिवसीय बैठक पशुपति कोल की अध्यक्षता में हुई, जिसमें कार्य रिपोर्ट सहायक राज्य सचीव महेंद्र पाठक ने पेश किया । सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि 25 ,26, 27 अप्रैल को राज्य की सभी प्रखंड कार्यालयों में राज्य सरकार की नाकामी, खनिज संपदाओं की लूट, जल जंगल जमीन की लूट, पंचायत की चुनाव कराने, गैरमजरूआ जमीन की रसीद चालू करने, केंद्र और राज्य सरकार की तानाशाही रवैया के विरोध में धरना प्रदर्शन किया जाएगा। 11 मई को राजभवन के समक्ष विशाल प्रदर्शन किया जाएगा । जिसमें राज्य से हजारों की संख्या में लोग उपस्थित होंगे।

रांची एसएसपी कार्ययालय का एक कलर्क घुस(BRIBE) लेते गिरफ्तार ,ACB ने पकड़ा

बैठक में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सह झारखंड प्रभारी अतुल कुमार अंजान, राष्ट्रीय सचिव सह एटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष रमेद्र कुमार, राज्य सचिव भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ,सहायक राज्य सचिव महेंद्र पाठक । राष्ट्रीय परिषद के सदस्य के के डी सिंह राजेंद्र यादव, पशुपति कोल , अजय कुमार सिंह, पीके पांडे , कनहाई माल पहाड़िया ,अर्जुन यादव, इंद्रमणि देवी, रुचिर कुमार तिवारी, सूरज पत सिंह ,कलाम रसीदी, शंभू कुमार,सभु महली , सहित राज्य परिषद के साथी मौजूद थे।

CPI

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES