6 Pti

बिहार के पूर्व CM लालू प्रसाद यादव से जुड़े चारा घोटाला के सबसे बड़े मामले सुनवाई शुरू हो गई

RJD सुप्रीमो और बिहार के पूर्व CM लालू प्रसाद यादव से जुड़े चारा घोटाला के सबसे बड़े मामले सुनवाई शुरू हो गई है. डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी मामले में मंगलवार से बचाव पक्ष की ओर से बहस शुरू हो गई है. सीबीआई की विशेष अदालत के न्यायाधीश एस के शशि की अदालत में इस मामले में आंशिक सुनवाई हुई.सुनवाई के दौरान तत्कालीन लालू सरकार के वित्त सचिव फूलचंद सिंह के अधिवक्ता ने बहस की. बचाव पक्ष ने अदालत को बताया कि तत्कालीन वित्त सचिव पर जो आरोप लगाए गए हैं वो सही नहीं हैं. और उससे जुड़े दस्तावेज अदालत में पेश किया. वहीं लालू प्रसाद यादव की ओर से आज बहस नहीं हुई. अगली सुनवाई के लिए कोर्ट ने 19 अगस्त की तारीख निर्धारित की है.

इसे भी पढ़े :-

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार के ऊपर यौन शोषण का आरोप

लालू प्रसाद यादव से जुड़े मामले में रोजाना सुनवाई चलेगी. सुनवाई का अब अंतिम स्टेज है. अभियोजन पक्ष ने 575 गवाह के बयान के आधार पर बहस पूरी की है. वहीं मामले में बचाव पक्ष 27 आरोपियों की गवाही के आधार पर बहस पूरी करेगी. जिसके बाद सीबीआई की विशेष अदालत अपना फैसला सुनाएगी. चारा घोटाला का यह सबसे बड़ा मामला है. ऐसे में लालू प्रसाद यादव समेत सभी आरोपियों की एक बार फिर से मुश्किलें बढ़ सकती हैं.
Civil Court1
लालू प्रसाद के अधिवक्ता आनंद कुमार विज ने बताया कि चारा घोटाला के डोरंडा कोषागार (आरसी 47A/96) से अवैध निकासी मामले में बचाव पक्ष की ओर से आज से बहस शुरू हो गई है. यह सुनवाई day-to-day चलेगी. उन्होंने बताया कि पिछली सुनवाई के दौरान लालू प्रसाद यादव ओर से बहस फिजिकल या वर्चुअल सुनवाई के लिए विरोध नहीं किया गया है. मामले में अन्य आरोपियों के द्वारा अदालत में आवेदन देकर फिजिकल बहस की मांग की गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES