शौर्य चक्र से सम्मानित शहीद की पत्नी से 18 लाख की ठगी

शौर्य चक्र से सम्मानित शहीद की पत्नी से 18 लाख की ठगी

उपेंद्र कुमार / रिक्की राज

रांची में जमीन दिलाने के नाम पर शहीद की पतनी की साथ धोखा हुआ है। खबर के मुताबिक राजधानी रांची जिले के नवाडीह गांव के शहीद जयप्रकाश उरांव की विधवा पत्नी संगीता उरांव से नौकरी और जमीन दिलाने का झांसा देकर 18 लाख रुपये की ठगी हुई है . इस घटना की जानकारी संगीता उरांव ने रघुनाथपुर के पूर्व मुखिया महादेव उरांव के खिलाफ चान्हो थाने में रविवार की शाम को आवेदन दर्ज कराई है.

इसे भी पढ़े :- बड़े भाई ने छोटे भाई के नाम पर की नौकरी, हो गई मौत, अब अपने ही जीवित होने का प्रमाण ढूंढ़ रहा गणेश

FIR के मुताबिक 15 नवंबर 2017 में मणिपुर में उग्रवादियों से लोहा लेते हुए जयप्रकाश उरांव शहीद हुए थे। जिसके बाद मरणोपरांत राष्ट्रपति द्वारा उन्हें शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। जयप्रकाश उरांव की पत्नी एमा संगीता उरांव को केंद्र सरकार और झारखण्ड सरकार से काफी रुपया जीवन के गुजर -बसर को मिला था.

Shaurya Chakra Sammanit Jaypraksah File  Photo
Shaurya Chakra Sammanit Jaypraksah File Photo

जिसके बाद रघुनाथपुर पंचायत के पूर्व मुखिया व चंपाडीह निवासी मुखिया महादेव उरांव ने उन्हें आगे की जीवन को चलाने के लिए उन्हें हलके -फुल्के मदद कर उनसे पारिवारिक सम्बन्ध जैसे करीबी बढ़ा ली। फिर नौकरी व जमीन दिलाने के नाम पर अलग-अलग तारीख में उससे 18 लाख रुपये की ठगी कर ली.

इसे भी पढ़े :- किसानों की योजना में भर्ष्टाचार के आरोपी को आखिर क्यों दी गयी किसानों की ही इतनी बड़ी योजना की जिमेवारी ।

जिसके बाद में संगीता को झारखंड सरकार ने उसके पति की शहादत को लेकर नौकरी जरूर दी है. वह वर्तमान में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चान्हो में कार्यरत है. प्राथमिकी में चान्हो पुलिस से रुपया वापस दिलाने की गुहार लगाते हुए संगीता उरांव ने कहा है कि पति की मौत व दो छोटे बच्चों के भविष्य को लेकर उसकी मनोदशा ठीक नहीं थी. इसका फायदा उठाकर महादेव उरांव ने उससे 18 लाख रुपये ठग लिए हैं. फिलहाल चान्हो थाना पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES