Whatsapp Image 2021 11 14 At 2.42.09 Pm

जैप- वन ग्राउंड, डोरंडा में आयोजित झारखंड राज्य स्थापना दिवस अलंकरण परेड समारोह में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन हुए शामिल

हमें अपने वीर पुलिस जवानों पर गर्व है । झारखंड जैसे कठिन भौगोलिक क्षेत्र वाले राज्य में हमारे पुलिस पदाधिकारियों और जवानों ने जिस कर्तव्यनिष्ठा और अदम्य साहस से विभिन्न चुनौतियों का सफलतापूर्वक सामना किया है, उसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम है । इस दौरान आपने जो मनोबल दिखाया है, वही हमारी ताकत है । इसी ताकत के बल पर राज्य की लगभग सवा तीन करोड़ आबादी अमन चैन और शांति के साथ रह रही है । हमें पूरा विश्वास है कि इसी तरह आप आगे भी अपना मनोबल बनाए रखेंगे । मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज पुलिस पदाधिकारियों , जवानों और वीरगति को प्राप्त हुए शहीदों के परिजनों को संबोधित करते हुए ये बातें कही ।
Whatsapp Image 2021 11 14 At 2.42.04 Pm
मौका था जैप वन ग्राउंड में आयोजित झारखंड राज्य स्थापना दिवस परेड अलंकरण समारोह का। इस मौके पर उन्होंने भारी बारिश के बीच आकर्षक परेड का निरीक्षण किया और सलामी ली । मुख्यमंत्री ने समारोह में 57 पुलिस पदाधिकारियों /जवानों को उत्कृष्ट कार्य के लिए मेडल देकर सम्मानित किया ।मुख्यमंत्री ने कहा कि अलग राज्य बनने के बाद पिछले 20 सालों में हमने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं । इस दौरान हमने कई मुकाम हासिल किए तो कई चुनौतियों और समस्याओं का भी सामना किया । अपने कर्तव्यों को निभाते हुए कई जवान वीरगति को प्राप्त हुए । फिर भी आप का मनोबल नहीं टूटा । आप अपनी जिम्मेदारियों और कर्तव्य को पूरी ईमानदारी और सत्य निष्ठा के साथ निभा रहे हैं ।उग्रवाद नियंत्रण में आपकी भूमिका सराहनीय मुख्यमंत्री ने कहा कि अलग राज्य बनने के बाद झारखंड की गिनती पूरे देश में सबसे ज्यादा उग्रवाद प्रभावित राज्यों में होती थी । लेकिन , आपने अपनी ताकत से उग्रवादियों को मुंह तोड़ जवाब दिया है । आज हम कह सकते हैं कि उग्रवाद को काफी हद तक नियंत्रित करने में कामयाबी हासिल कर ली है ।
Whatsapp Image 2021 11 14 At 2.41.59 Pm
इन्हे भी पढ़े :- नमामि गंगे योजना के तहत बाल दिवस के अवसर पर हुआ विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

इतना ही नहीं, उग्रवाद की आड़ में पनपे असामाजिक और अपराधिक संगठनों को भी आपने करारा जवाब दिया है ।मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न कारणों से कुछ युवक मुख्यधारा से भटक गए हैं ।ऐसे युवकों से उन्होंने राज्य के हित में मुख्यधारा में लौटने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि मुख्यधारा में वापस लौटने वाले युवकों को सरकार सम्मान के साथ जीने का अधिकार और रोजगार उपलब्ध कराएगी ।मुख्यमंत्री ने कहा कि अंतिम पंक्ति में बैठे लोगों तक पहुंचने के लिए सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। हमारा मुख्य मकसद हर चेहरे पर मुस्कान लाना है ।
Whatsapp Image 2021 11 14 At 2.42.00 Pm
इसके लिए कई विकास और कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही है । सभी को सम्मान और सुविधाएं मिले, इसी लक्ष्य के साथ सरकार कार्य योजना बना रही है ।मुख्यमंत्री ने कहा कि राजधानी रांची के डोरंडा स्थित जैप ग्राउंड का ऐतिहासिक महत्व है। यह कई बड़े और महत्वपूर्ण समारोह तथा कार्यक्रमों का गवाह रहा है । इस मैदान के सौंदर्यीकरण के साथ सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी ताकि उसका और बेहतर तरीके से इस्तेमाल हो सके । उन्होंने इस मौके पर जैप परिसर की सड़कों का कालीकरण करने की भी घोषणा की ।मुख्यमंत्री ने इस समारोह में उत्कृष्ट कार्य के लिए 57 पुलिस पदाधिकारियों और जवानों को मेडल देकर सम्मानित किया । इनमें एक पुलिस पदाधिकारी को विशिष्ट सेवा पदक, 27 पुलिस पदाधिकारियों /कर्मियों को मुख्यमंत्री वीरता पदक और 29 पुलिस पदाधिकारी/ कर्मियों को सराहनीय सेवा पदक प्रदान किया गया। इस अवसर पर आयोजित परेड में झारखंड सशस्त्र पुलिस- 1, झारखंड सशस्त्र पुलिस -2, वायरलेस की बटालियन, झारखंड सशस्त्र पुलिस -10 (महिला वाहिनी ), इंडियन रिजर्व बटालियन -5, रांची जिला बल और झारखंड जगुआर की टीम शामिल हुई । इसके अलावा झारखंड सशस्त्र पुलिस बटालियन- 1, झारखंड सशस्त्र पुलिस बटालियन -10 और झारखंड पुलिस अकादमी, हजारीबाग की बैंड टीम ने भी भाग लिया ।इस समारोह में गृह, कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव -सह -मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का , पुलिस महानिदेशक श्री नीरज सिन्हा और डीजी श्री अजय कुमार सिंह समेत कई पुलिस पदाधिकारी और शहीद जवानों के परिजन मौजूद थे ।

इन्हे भी पढ़े :- दुमका में श्रद्धा से मना भगवान सहस्त्रार्जुन का जन्मोत्सव

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES