15.12.2021 17.26.51 Rec

जेपीएससी के अभियार्थी जा रहे थे मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने पुलिस बल ने मोरहाबादी मैदान के TOP के सामने ही बरकेटिंग लगा कर रोक लिया।

जेपीएससी 7वीं से लेकर 10वीं तक के पीटी परीक्षा के विरोध में जेपीएससी के सफल अभ्यर्थी के साथ साथ असफल अभियार्थी भी लगातार आंदोलन कर रहे हैं. और आज दिन बुधवार तारिक 15 दिसंबर 2021 को मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने पहुंचे जेपीएससी अभियर्थियों को पुलिस प्रशाशन बल द्वारा मोरहाबादी मैदान के TOP के सामने ही रोक लिया गया। लाचार अभियार्थी सड़क पर ही अपनी मांगों को लेकर बैठ गए और लगातार नारे लगते रहे . साथ ही जेपीएससी अभियर्थियों ने रामधारी सिंह दिनकर की कविता रश्मिरथी को भी पढ़ा और राज्य सरकार मुर्दाबाद के नारे और जब जब छात्र बोलै है तब तब सिंघासन डोला है जैसे नारे भी लगाए।
15.12.2021 17.22.21 Rec
दूसरी तरफ पुलिस प्रशाशन बल ने झामुमो नेता शिबु सोरेन के आवास के पास से ही बैरिकेडिंग लगा रखा है पूरा मोरहाबादी ग्राउंड से लेकर मुख्यमंत्री आवास तक ऐसा दिखाई देता है की मनो जैसे पूरा इलाका ही किसी किले के सम्मान हो. मौके पर किसी भी तरह की चूक न हो इसी वजह से भारी संख्या में पुलिस बल को भी तैनात किया गया है. पुलिस के कई बड़े पदाधिकारी और जवान पुरे इलाके का घेराओ किये हुए है। जैसाकि की दृष्टि नाउ आपको बिलकुल शुरुवात से अभ्यर्थियों की मांग को आप तक साझा करता रहा है फिर भी ज्ञात हो की आज अभियार्थी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी से खुद मिलकार सामने आई गड़बड़ियों पर खुलकर उनसे टेबल टॉके करें, और मुख्यमंत्री को जेपीएससी की गड़बड़ियों से उन्हें अवगत करसके, लेकिन इसे पहले की अभियार्थी मुख्यमंत्री से मिल पते उसे पहले ही पुलिस बल ने उन्हें रोक लिया। पुलिस बल द्वारा मौके पर तैनात वाटर कैनन को भी बार बार सेट कर रखा गया था लेकिन बावजूद इसके अभियार्थी आज आर या पार के लड़ाई पर अड़े हुए है।
15.12.2021 17.23.06 Rec
इन्हे भी पढ़े :- भाकपा -माले रामगढ़ प्रखंड कमेटी की बैठक में माले के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव दिवंगत कामरेड विनोद मिश्र के 23वीं स्मृति दिवस सह संकल्प दिवस मनाने का निर्णय लिया गया

ज्ञात हो की २३ नवंबर २०२१ को जब अभियार्थी आयोग का घेराव करने जा रहे थे तब पुलिस बल द्वारा उन पर बेतहासा लाठिया बर्षीय गई थी जिसे लेकर विधानसभा में बहुत हो हंगामा भी हुआ और नेताओ द्वारा इस निंदनीय बताया गया। इसके बाद बीजेपी के नेताओ ने राज्यपाल को इसके खिलाफ ज्ञापन भी सौपा गया था लेकिन बावजूद इसके पुलिस बल ने मौके पर वाटर कैनन तैयार रखा है। अभियर्थियों की मांग है की 7वीं से 10वीं JPSC PT परीक्षा रद्द की जाए, साथ ही उम्र सीमा में छूट देते हुए सीट बढ़ाने की भी बात को आगे रखा जाए, और अंतर जिला परीक्षा सेंटर बनाकर पारदर्शिता से चयन प्रक्रिया के आधार पर JPSC की परीक्षा का आयोजन किया जाए.
15.12.2021 17.24.28 Rec
JPSC के अभ्यर्थियों का कहना है कि जेपीएससी के पीटी के रिजल्ट में बहुत ही ज्याद गड़बड़ी की गई है. परीक्षाफल उम्मीद से बिलकुल विपरीत है. साहेबगंज, लातेहार, लोहरदगा और हजारीबाग जिला के एक ही सेंटर से बेंचवार क्रमवार बैठे अभ्यर्थियों को पास कर दिया जाता है. जेपीएससी की ओर सवाल भी आउट ऑफ सिलेबस पूछे गए थे. इन सबके इतर भी अब तक का सबसे हाई कट ऑफ मार्क्स दर्ज किया गया है .
15.12.2021 17.27.51 Rec

इन्हे भी पढ़े :- नए वर्ष की डायरी का विमोचन, 500 लॉयर्स डायरी छपाई है जो अधिवक्ताओं के बीच व न्यायाधीशगण के बीच बंटेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES