India Modi 33333

बंटवारे का दर्द कभी भुलाया नहीं जा सकता- PM नरेंद्र मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज 14 अगस्त के दिन को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाने की घोषणा की है. पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पूर्व भारत-पाकिस्तान बंटवारे को याद करते हुए कहा कि देश के बंटवारे का दर्द कभी भुलाया नहीं जा सकता. कहा कि नफरत और हिंसा की वजह से हमारे लाखों बहनों और भाइयों को विस्थापित होना पड़ा. अपनी जान तक गंवानी पड़ी.

इसे भी पढ़े :-

नहीं रहे रिम्स के मेडिसिन विभाग के एचओडी डॉ उमेश प्रसाद

पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि बंटवारे में विस्थापित होने वाले और जान गंवाने वाले हमारे लाखों बहनों और भाइयों के संघर्ष और बलिदान की याद में 14 अगस्त को ”विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के तौर पर मनाने का फैसला किया गया है. पीएम मोदी ने कहा, #PartitionHorrorsRemembranceDay का यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना के जहर को खत्म करने के लिए न केवल प्रेरित करेगा, बल्कि इससे एकता, सामाजिक सद्भाव और मानवीय संवेदनाएं भी मजबूत होंगी. देश को 15 अगस्त 1947 के दिन आजादी मिली थी
14.08.2021 16.06.52 Rec
. लेकिन अंग्रेजी सत्ता ने भारत को आजादी की खुशियां बंटवारे की बहुत बड़ी कीमत चुकाकर सौंपी थीं. ब्रिटेन ने 14 अगस्त को देश को भारत और पाकिस्तान दो हिस्सों में बांट दिया. 15 अगस्त की सुबह भी लोग ट्रेनों से, घोड़े-खच्चर और पैदल अपनी मातृभूमि से दूसरे देश जा रहे थे. पाकिस्तान से हिंदुस्तान और हिंदुस्तान से पाकिस्तान आने वालों के चेहरों से सारे रंग उतरे हुए थे.बता दें कि बंटवारे के दौरान दोनों तरफ भड़के दंगों और हिंसा में लाखों लोग मारे गये थे. कुछ रिपोर्ट्स में यह संख्‍या 10 लाख से 20 लाख तक आंकी गयी. जान लें कि इस त्रासदी में महिलाएं, बच्‍चे, बूढ़े सब हिंसा की भेंट चढ़ गये थे.

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि आजादी की 75वीं सालगिरह मनाने की सरकार की पहल आजादी का अमृत महोत्सव’ के लिए उसने नवोन्मेषी कार्यक्रमों की श्रृंखला तैयार की है. मंत्रालय ने कहा कि इन कार्यक्रमों का उद्देश्य नये भारत की यात्रा में बलिदान के भाव और देशभक्ति के जज्बे को याद करने में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करना है.

इसे भी पढ़े :-

कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन को न्योता भेजा

मंत्रालय ने बताया कि इस पहल के तहत आकाशवाणी के खास कार्यक्रम आजादी का सफर का प्रसारण आकाशवाणी के साथ साथ क्षेत्रीय चैनलों पर भी 16 अगस्त से होगा. बयान के अनुसार पांच मिनट का यह कार्यक्रम प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानियों पर आधारित होगा. इसका प्रसारण आकाशवाणी पर सुबह आठ बजकर 20 मिनट पर हिंदी में और सुबह आठ बजकर 50 मिनट पर अंग्रेजी में होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES