Farmlsaws1608107238336

15 दिसंबर 2021 से कृषियो से धान खरीद की शुरुआत करेगी सरकार, 8 लाख टन की खरीद करने का लक्ष सरकार द्वारा रखा गया !

पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी सरकार 15 दिसंबर 2021 से कृषियो से धान खरीद की शुरुआत करेगी. गौरतलब है की खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में तक़रीबन 2 लाख टन अधिक धान खरीद का लक्ष्य रखा है. बताए चले की इस बार विभाग कुल 8 लाख टन की खरीद करने के उम्मीद में है. पिछली वर्ष सर्कार द्वारा 6 लाख टन की खरीद करने का लक्ष रखा था जिसके विरूद्ध 6.2 लाख टन की खरीद हुई थी. फिलहाल सभी कृषियो का धान क्रय को लेकर रजिस्ट्रेशन का काम चालू है।

इन्हे भी पढ़े :- मुख्या सचिव सुखदेव सिंह ने नियुक्तियो के लिए सभी विभागों को लिखा पत्र 5 दिनों में सभी विभागों से माँगा रिक्त स्थान का ब्यौरा !

खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारियों द्वारा 2 दिसंबर को भी धान क्रय के संबंध मे एक बैठक की गई थी.जिसमे चर्चा हुई थी कि साधारण धान का दाम 1940 रुपया प्रति क्विंटल कृषियो को दिया जायेगा. जिस पर सरकार 110 रुपया बोनस भी देगी. वही ग्रेड वन धान के लिए 1960 रुपये प्रति क्विंटल दिया जाएगा और साथ ही बोनस के तौर पर 110 रुपये भी दिये जायेंगे. खाद्य आपूर्ति विभाग की ओर से धान क्रय के समय कृषियो को उनके धन के क्वालिटी के हिसाब से 50 प्रतिशत राशि का पेमेंट कर दिया जाना है, और बाद बाकि क्रय का भुगतान 90 दिनों के भीतर विभाग द्वारा कर दिया जायेगा.

इन्हे भी पढ़े :- कर्णाटक में मिले ओमिक्रोन वेरिएंट के दो मरीज, केंद्र सरकार ने भीड़ न लगाने की अपील नागरिको से कि।

कृषियो को धान विक्रय करने के लिए ई-उपार्जन पोर्टल अथवा बाजार एप पर रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा. जिसमे आधार कार्ड का संख्या, मोबाइल नंबर, बैंक खाता नंबर, कृषि कार्य हेतु प्रयुक्त जमीन का रकबा जैसे की खाता, प्लाट संख्या सहित अन्य जानकारियां भी देनी होंगी. कृषियो के सभी दस्तावेज जिला आपूर्ति कार्यालय द्वारा ई-उपार्जन पोर्टल अथवा बाजार एप पर अपलोड कर दिया जायेंगे. और अगर किसी कृषि का आवेदन अगर रिजेक्ट हो जाता है या कोई त्रुटि उसमें रह जाती है तो भी इसकी जानकारी मिसेज या फोन कर के किसानो को दी जायेगी. खरीफ विपणन मौसम 2021-22 में धान की अधिप्राप्ति एवं CMR जमा करने के लिए आखरी तिथि 30 सितंबर, 2022 तय की गयी है.

इन्हे भी पढ़े :- तीनो कृषि कानूनों के हटने के बाद कितना बढ़ा कृषियो का आए ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES