Upload

MONIKA MURDER CASE: फाइनेंस कंपनी का क्रूर चेहरा ट्रेक्टर का क़िस्त ना चुकाने पर किसान की बेटी को उसी ट्रेक्टर से कुचलकर मार डाला ।

MONIKA MURDER CASE/ मोनिका मांगे इंसाफ / रिपोर्ट मुकेश  कुमार 

झारखंड के हजारीबाग में फाइनेंस कंपनी का क्रूर चेहरा सामने आया है। जहां लोन पर लिए ट्रैक्टर के कुछ रकम बाकी होने पर ट्रैक्टर ले जा रहे फाइनेंस कंपनी के अधिकारी से जब दिव्यांग किसान की बेटी ने आई कार्ड दिखाने की मांग की तो फाइनेंस कंपनी के अधिकारी ने गुस्से में आकर किसान की 27 साल की बेटी मोनिका को ट्रैक्टर से कुचल डाला। इलाज के दौरान मोनिका  की मौत हो गई। बताया जाता है कि मोनिका तीन माह की गर्भवती भी थी।  यह घटना हजारीबाग के इचाक में हुई है । बताया जाता है की वसूली एजेंट कर्ज की किस्त में देरी पर ट्रैक्टर जब्त करने आए थे। बकाए को लेकर विवाद के बाद जबरन ट्रैक्टर ले जाने लगे। बेटी ने रोकना चाहा तो उसी ट्रैक्टर से रौंद दिया।

Monika
  महिंद्रा फाइनेंस कंपनी के द्वारा किस्त न भर पानी पर गाड़ी उठा लेने के मामले में किसान की की बेटी को कुचलकर मारने का  मामला सामने आया है। घटना 15  सितम्बर की है  . किसान मिथिलेश  ने बताया कि उन्होंने महिंद्रा फाइनेंस से कर्ज लेकर ट्रैक्टर खरीदा था। दो दिन पहले कंपनी की ओर से मैसेज आया कि बकाया किस्त 120,000 रुपये जमा करें। लेकिन  वो तय तिथि पर पैसा जमा नहीं कर पाए।  । इसी बीच ट्रैक्टर पेट्रोल पंप पर खड़ा था। वहां एक कार से चार लोग पहुंचे। उनमें से एक ट्रैक्टर स्टार्ट कर ले जाने लगा। तब एक पेट्रोल पंपकर्मी ने इसकी सूचना दी। इसके बाद वह बकाया रकम लेकर अपनी बेटी मोनिका के साथ घर से निकले। उन्हें पेट्रोल पम्प के समीप उनका ट्रैक्टर दिखा। तो उन्होंने उन लोगों को रोका। ट्रैक्टर के पीछे-पीछे चल रही कार भी रुकी। कार से एक शख्स निकला और कहा कि एक लाख 30 हजार रुपये लेकर ऑफिस पहुंचो। मिथिलेश ने कहा कि मैं रुपए लेकर आया हूं लेकिन आप पहचान बताइये। इस पर उसने खुद को महिंद्रा फाइनेंस का जोनल मैनेजर बताया। तब मिथिलेश ने उससे प्रमाण मांगा। इसके बाद वह शख्स आगबबूला हो गया और ट्रैक्टर बढ़ाने का इशारा किया। मोनिका ने जब रोका तो चालक उसे कुचलते हुए बढ़ गया। इलाज के लिए रिम्स लाने के दौरान उसकी मौत हो गई।
Monika 02
 घटना के बाद SP  ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सभी आरोपियों पर 302 के तहत हत्या का केस दर्ज करने की बात कही है और जितने भी फाइनेंस कंपनियां है उन्हें चेतावनी देते हुए कहा है की कानून के दायरे में रहकर काम करें अगर इससे बाहर जाकर काम करेंगे तो आपके ऊपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी उन्होंने इस घटना को जघन्य अपराध माना है
Anpurna Devi
  केंद्रीय राज्य शिक्षा मंत्री  अन्नपूर्णा देवी  फाइनेंस कंपनी के फाइनेंसर के द्वारा निर्मम हत्या की शिकार मोनिका कुमारी के घर उनके परिवार वालों से मिलने पहुंची तथा उन्हें सांत्वना दिया और इस मामले में उन्हें न्याय दिलाने का भी आश्वासन दिया तथा उनके साथ बरकट्ठा विधायक अमित यादव भी मौजूद थे ।  मीडिया से बात करते हुए उन्होंने ऐसे घटना की कड़ी निंदा की है तथा ऐसे फाइनेंस कंपनी के गुंडों पर फास्टट्रैक के माध्यम से केस चला कर जल्द से जल्द उन्हें सजा दिलवाने की बात कही । उन्होंने इस घटना को निर्मम हत्या कहा है तथा उन्होंने यह कहा कि यह दो हत्या है क्योंकि मृतिका गर्भवती थी इसलिए फाइनेंस कंपनी के गुंडों के द्वारा दो हत्या किया गया है । उन्होंने जिला प्रशासन से आग्रह किया है कि इस मामले में जागरूकता फैलाने की भी जरूरत है क्योंकि ऐसा देखा जाता है की फाइनेंस कंपनी ऐसे ही गुंडों के द्वारा बिना किसी सूचना के किसी की भी गाड़ी उठा लेते है जो गलत है और इस मामले में लोग जागरूक भी नहीं है तो उन्होंने जिला प्रशासन से आग्रह किया है कि इस मामले में लोगों को जागरूक करने की भी जरूरत है
Trector
 इस घटना के बाद ग्रामीणों में काफी आक्रोश है ग्रामीणों ने फाइनेंस कंपनी से मुआवजे के तौर पर 50 लाख  और एक नौकरी की डिमांड की है  हलाकि कंपनी के अधिकारी मोनिका के घर पहुंचे और परिवार को सान्तवना देते हुए कहा है की कम्पनी पीड़ित परिवार के साथ है लेकिन अभी तक आरोपी हत्यारा फरार है और उसकी गिरफ़्तारी नहीं हो पायी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES