Img 20211227 Wa0019 Scaled

मुख्यमंत्री की जनहित पर संवेदनशीलता का स्वागत : डॉ. प्रणव कुमार बब्बू पर्यावरण हित में रांची रिवोल्ट-जनमंच की बड़ी जीत

मुख्यमंत्री ने स्केटिंग मैदान में निर्माण कार्य रोकने का दिया आदेश

रांची : आज दिनांक 28 दिसंबर दिन मंगलवार 2021 को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन रांची रिवोल्ट – जनमंच के आंदोलन स्थल पर पहुंचकर निर्माण कार्य बंद करने के आदेश देते हुए मैदान बचाने के लिए रांची रिवोल्ट जनमंच द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की।
Img 20211228 Wa0015

इन्हे भी पढ़े : राज्य के सबसे बड़े ग्रिड की सौगात मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 29 दिसंबर को सरकार की दूसरी वर्षगांठ के मौके पर देंगे

क्या है मामला

Img 20211228 Wa0014 2

Img 20211226 Wa0024

ज्ञातव्य हो राजधानी समेत राज्य के सभी खेल मैदानों पर अतिक्रमण और निर्माण कार्य कर उसे संकुचित किया जा रहा है। जिसका लगातार विरोध करते हुए रांची रिवोल्ट-जनमंच एवं मैदान बचाओ संघर्ष समिति के संयुक्त तत्वावधान में समाजसेवी डॉ.प्रणव कुमार बब्बू के नेतृत्व में झारखंड चिपको आंदोलन की शुरुआत की गई। खिलाड़ियों ने पेड़ों से चिपक कर जान तक देने मगर पेड़ नहीं कटने देने की बातें कहते हुए प्रदर्शन किया।आज 28 दिसंबर मंगलवार को इसी क्रम में वृहद स्तर पर हस्ताक्षर अभियान चलाया गया इसमें 1200 से ज्यादा लोगों ने आन्दोलन के समर्थन में हस्ताक्षर किया।

Img 20211228 Wa0014

मामले की जानकारी होने पर संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री स्वयं आंदोलन स्थल पर पहुंचे एवं जनमंच के संयोजक डॉ.प्रणव कुमार बब्बू से पूरी जानकारी लेकर तत्काल प्रभाव से निर्माण कार्य बंद करने का आदेश दिए। इस अवसर पर उन्होंने पर्यावरण हित में जनमंच के कार्यों को भी सराहा।रिवोल्ट-जनमंच महापरिवार के संयोजक डॉ. बब्बू ने मुख्यमंत्री के इस आदेश का स्वागत किया और आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आंदोलन अभी तबतक जारी रहेगा,जबतक कि राजधानी की समस्त खेल मैदानों में अतिक्रमण बंद नहीं होता।

Img 20211228 Wa0014 1

डॉ. बब्बू ने कहा सौंदर्यीकरण या निर्माण कार्य के बहाने कंक्रीट के जाल से मैदानों को न घेरा जाए,खिलाड़ियों के हित में सरकार बचे सभी खेल मैदानों को बचाने के लिए नई नीति लाए और अतिक्रमण पूरी तरह बंद हो।
Img 20211228 Wa0024

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES