मोदी सरकार (Bjp) में झारखंड की कला-संस्कृति हो रही सम्मानित: दीपक प्रकाश

मोदी सरकार (BJP) में झारखंड की कला-संस्कृति हो रही सम्मानित: दीपक प्रकाश

मोदी सरकार (BJP) में झारखंड की कला-संस्कृति हो रही सम्मानित: दीपक प्रकाश (DEEPAK PRAKASH)

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद श्री दीपक प्रकाश ने सरायकेला निवासी छऊ गुरु शशधर आचार्य जी एवं राँची के नागपुरी लोक गायक एवं संस्कृति को राष्ट्रीय पटल पर पहचान दिलाने वाले श्री मधु मंसूरी हसमुख जी को वर्ष 2020-21 का “पद्मश्री” सम्मान मिलने पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी है।

इन्हे भी पढ़े :- एक करोड़ के माओवादी(Maoist)सेंट्रल कमिटी मेंबर हार्डकोर नक्सली अनल दा उर्फ पतिराम मांझी (PITRAM MANJHI) के मारक दस्ते का एरिया कमांडर बैलून सरदार, दस्ता सदस्य गाजु उर्फ सूरज सरदार और रायमुनी कुमारी उर्फ गीता ने सोमवार को आईजी अभियान एवी होमकर के समक्ष सरेंडर कर दिया। रांची रेंज डीआईजी पंकज कंबोज के कार्यालय परिसर में आयोजित सरेंडर कार्यक्रम में तीनों नक्सलियों ने सरेंडर किया। एक करोड़ के इनामी माओवादी (Maoist) पतिराम मांझी ने सोमवार को सरेंडर कर दिया।

उन्होंने कहा कि झारखंड की कला-संस्कृति,गीत-संगीत से जुड़ी प्रतिभाएं आज राष्ट्रीय पटल पर लगातार सम्मानित हो रही है।उन्होंने प्रधानमंत्री का आभार प्रकट करते हुए कहा कि पीएम के मन मे झारखंड बसता है। लगातार झारखंड की प्रतिभाओं को पद्म अलंकरण से सम्मानित किया जाना इस बात का प्रमाण है।उन्होंने कहा कि इसके पूर्व की यूपीए सरकारों ने झारखंड का कोई ख्याल नही रखा।भाजपा सरकार ने अटल जी के नेतृत्व में झारखंड बनाया और आज मोदी सरकार में राज्य के विकास के सार्थक प्रयास किए जा रहे है साथ ही साथ यहां की प्रतिभाएं भी सम्मानित हो रही है।

इन्हे भी पढ़े :-केंद्र सरकार (CENTRAL GOVERMENT) के आदेश पर एक अप्रैल 2022 से सभी जिला ग्रामीण विकास अभिकरण डीआरडीए (DRDA) बंद कर दिये जायेंगे. केंद्रीय ग्रामीण विकास विभाग ने इसकी सूचना राज्य सरकार को भेजी है. राज्य में ग्रामीण विकास अभिकरणों में संविदा (CONTRACTUAL BASIS) पर करीब 500 कर्मचारी (WORKERS) कार्यरत हैं. हालांकि इनका कार्यकाल की अवधि (TENURE) मार्च 2022 तक ही है.केंद्रीय ग्रामीण विकास विभाग द्वारा भेजे गये पत्र में राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को सुझाव दिया गया है कि वह डीआरडीए में संविदा पर कार्यरत कर्मियों का विलय जिला परिषद/जिला पंचायत में कर दें. वहीं, डीआरडीए में प्रतिनियुक्त अधिकारियों और कर्मचारियों को उनके मूल विभाग में वापस कर दें. डीआरडीए में जो कर्मचारी नियमित रूप से नियुक्त हुए थे, उन्हें उनकी योग्यता के अनुसार कहीं समायोजित किया जा सकता है. अगर यह संभव नहीं हो, तो उन्हें मनरेगा, पीएम पीएम आवास योजना, नेशनल सोशल असिस्टेंस प्रोग्राम आदि में रखने की कोशिश हो. पिछले वर्ष ही केंद्र ने दी थी जानकारी पिछले वर्ष ही केंद्र ने डीआरडीए को दी जानेवाली आर्थिक सहायता बंद करने की बात कही थी. केंद्र सरकार (CENTRAL GOVERMENT) का आदेश अप्रैल 2022 से बंद कर सभी जिला ग्रामीण विकास अभिकरण डीआरडीए (DRDA) बंद कर दिये जायेंगे

इन्हे भी पढ़े :- एक बहुत ही मशहूर सिनेमा है हॉलीवुड (HOLLYWOOD) का जहा अभिनेता हर जगह पहले तो कांड करता है फिर वहा से भाग खड़ा होता है और पुलिस (POLICE) वाले हाथ पर हाथ रख बैठे रह जाते है ऐसा ही कुछ झारखण्ड (JHARKHAND) में भी बिता है जहा 2 अपराधी (CRIMINALS) पुलिस के सामने ही हथकड़ी से हाथ छुड़ा कर भागने में कामयाब हो जाता है , घटना 5 नवंबर की है , ठाकुरगांव पुलिस की हिरासत से आरोपी सजीबुल अंसारी फरार हो गया था. जब मामले की जांच हुई तब जाकर दोनों सिपाही अनिल सुरीन और संदीप उरांव की लापरवाही सामने आयी है. इस मामले में खलारी डीएसपी अनिमेष नैथानी की रिपोर्ट पर दोनों सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है. मामले की जांच में यह बात सामने आयी है कि उज्ज्वल फाइनेंस कंपनी के मैनेजर उत्तम मिश्रा से 1.33 लाख रुपये लूटने के मामले में सजीबुल अंसारी सहित तीन लटेरेपकड़े गये थे.हथकड़ी में बंधे अपराधियों को नहीं संभल पाई पुलिस (POLICE), 2 सिपाहियों को किया गया निलंबित।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES