17.11.2021 17.09.00 Rec

सातवीं से दसवीं जेपीएससी पीटी परीक्षाफल में 230 नंबर वाले पास और 272 वाले होजाते है फ़ैल !

अनुशील ओझा जिसका लाखों छात्रों का बेसब्री से इंतजार था सातवीं से दसवीं जेपीएससी पीटी परीक्षाफल में महाघोटाला का सबूत वह पेश किया गया जो सनसनी खेज फैलाने वाली खबर है, सातवीं से दसवीं जेपीएससी पीटी परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर लगातार 17 दिनों से आंदोलनरत छात्रों का ऐतिहासिक सफल जेपीएससी मुख्यालय घेराव करने के बाद आज दिनांक 17/11/21 दिन बुधवार को रांची मोराबादी स्थित बापू वाटिका में वार्ता के माध्यम से जेपीएससी परीक्षा फल में गड़बड़ी का सबूत पेश किया गया।मौके पर छात्र नेता देवेंद्र नाथ महतो, प्रवीण चौधरी ने कहा कि पीटी परीक्षाफल में महाघोटाला हुआ है, सेटिंग गेटिंग से फैल छात्रों को पास करा दिया गया है, ऐसा मामला है लोहरदगा के क्रमवार उत्तीर्ण होने वाले सेंटर का सामने आया है कि कम नंबर लाने वाला छात्र को पास कर दिया गया है जिसका रोल नंबर 52236888 जो 230 नंबर लाकर अर्थात 115 सवाल बनाकर पास हुआ है जबकि इससे ज्यादा नंबर लाकर फैल है जिसका रोल 52300986 है जो 272 अंक अर्थात 136 सवाल हल करके फैल है।यह खबर जेपीएससी सनसनी फैलाने वाली है, यह तो एक मात्र उदाहरण है ऐसे अनेक गड़बड़ी है, इसके अलावा दिव्यांगों के लिए क्षेतिज आरक्षण, आदिम जनजाति आरक्षण का पालन नहीं किया है, सैनिक कोटा, महिला कोटा का आरक्षण भी नहीं दिया गया, तीन तीन सेंटर में क्रमवार पास है, यही सेटिंग गेटिंग के कारण हाई कट ऑफ गया है, आयोग कट ऑफ जारी करेगा तो और गड़बड़ी सामने आयेगा। इसीलिए जेपीएससी को रद्द किया जाय।

इन्हे भी पढ़े :-
गढ़वा रोड स्टेशन पर 100 फिट ऊंचे अशोक स्तंभ राष्ट्रीय ध्वज का ध्वजारोहण किया गया।

Whatsapp Image 2021 11 17 At 4.58.28 Pm
1 नवम्बर से लगातार आंदोलन जारी है पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत कल जेपीएससी मुख्यालय का घेराव ऐतिहासिक सफल रहा इसके लिए के समस्त छात्रों को धन्यवाद है। साथ ही उन्होंने कहा कि सातवीं से दसवीं जेपीएससी पीटी परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत झारखंड के छात्र अपना जायज मांग को लेकर संवैधानिक तरीके से जेपीएससी मुख्यालय का घेराव के माध्यम से अपना हक अधिकार का मांग कर रहे थे, कार्यक्रम स्थल पर छात्रों के जायज मांग को समर्थन करने और छात्रों का होंसला बढ़ाने आये आदरणीय विनय सर के साथ जेपीएससी गेट के पास मौजूद एक महिला पुलिस कर्मी द्वारा तानाशाही रवैया अपनाते हुए अभद्र व्यवहार किया गया, गाली – गलौज किया गया, मारने पीटने और FIR करने का धमकी दिया गया, यह घटना बहुत निंदनीय है, कोई वर्दीवाली कानून का रखवाला करने वाली एक गुरुजी के साथ अभद्र व्यवहार से झारखंड के छात्र आक्रोशित हैं। यह देश संविधान और कानून से चलता है किसी को भी कानून को हाथ में लेकर तानाशाही रवैया अपनाने का अधिकार नहीं है।
Whatsapp Image 2021 11 17 At 4.58.29 Pm
इन्हे भी पढ़े :- महिला मॉडल करती थी ब्राउन शुगर की तस्करी, दिल्ली से लेकर आती थी मादक पदार्थ !

साथ ही प्रेस वार्ता के माध्यम से उन्होंने झारखंड के छात्रों के हेमंत सोरेन सरकार से मांग किया कि एक महिला पुलिस कर्मी द्वारा अभद्र व्यवहार का मामला गंभीर है इस घटना से झारखंड के छात्र और शिक्षक असुरक्षित महसूस कर रहें हैं इसीलिए जेपीएससी मुख्यालय गेट के सामने की घटना का जांच किया जाय और तानाशाही रवैया अपनाने वाली वर्दी का रब दिखाने वाली दोषी महिला पुलिस कर्मी पर कानूनी कार्रवाई के तहत बर्खास्त किया जाय।
Whatsapp Image 2021 11 17 At 4.58.29 Pm 1
इन्हे भी पढ़े :- CRPF का ही जवान करता था नक्सलियों और अपराधियों को हथियार और असला बारूद की सप्‍लाई !

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES