Cystoscopic Guided Capd

दावा रिम्स में हुआ विश्व का पहला cystoscopic guided CAPD insertion

बताया जा रहा है की रिम्स में हुआ विश्व का पहला cystoscopic guided CAPD इंसर्शन वंदना नामक 32 वर्षीय मरीज कार्डियोलॉजी विभाग में भर्ती है। उसके हृदय में एक छेद है जिसे ASD कहा जाता है। साथ ही साथ उसकी दोनों किडनी फेल है। उसे नेफ्रोलॉजी विभाग से डायलिसिस के बारे में परामर्श दिया गया था। परंतु वह डायलिसिस पूरा नहीं कर पाती थी और डायलिसिस के दौरान उसका बीपी कम हो जाता था।

प्रशांत किशोर यानि PK जल्द ही अपनी नयी पार्टी करेंगे लॉन्च , ट्वीट कर किया इशारा (Prashant Kishor will launch his new party soon)

अतः नेफ्रोलॉजी विभाग ने उसे  CAPD के लिए परामर्श दिया। यूरोलॉजी विभाग में आने के बाद डॉ अरशद जमाल ने उसे देखा और CAPD INSERTION  करने का निश्चय किया। परंतु उसके हृदय में छेद होने के कारण किसी भी तरह का जनरल एनेस्थीसिया संभव नहीं हो पाया। तदोपरांत उसका CAPD INSERTION  लोकल एनएसथीसिया में सिस्टोस्कॉपी CYSTOSCOPIC गाइडेंस में किया गया। यह विधि विश्व में कहीं भी रिपोर्टेड नहीं है और यह एक गहन अध्ययन का विषय बन गया है। मरीज अब स्थिर है और अब उसका CAPD  शुरू होने की स्थिति में है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES