Khunti

KHUNTI: खनन विभाग की बड़ी कार्रवाई, बालू लदे तीन हाइवा जब्त

KHUNTI

खूंटी: झारखण्ड के खूंटी जिले में बालू माफिया NGT के रोक के बाद भी लगातार बालू की अवैध तस्करी कर रहे है और यही वजह है की पुलिस ने इन बालू माफियो पर कस्ती करते हुएछापेमारी की। इस छापेमारी में तीन हाइवा को जब्त किया है. साथ ही भारी मात्रा में बालू जब्त किया गया है. वैसे माना जा रहा है की जब से बालू की रोक लगी है उस वक्त से अवैध तस्करी बढ़ गयी है। झारखण्ड की एक मीडिया ने यहाँ तक छापा है की इससे सिर्फ खूंटी के तीन थानों को हर महीने 15 लाख की कमाई होती है , एक हवाई से तस्करी करने की कीमत 30 से 35 हजार रुपया महीना होता है जिसके बाद पुलिस भी चुप बैठ जाती है। रनिया, तोरपा और कर्रा प्रखंड क्षेत्र की नदियों से बालू उत्खनन कर बालू की तस्करी जारी है.वैसे खनन विभाग द्वारा कार्रवाई के बावजूद माफिया बेखौफ होकर रात में बालू की तस्करी में लगे हैं. इसके खिलाफ कार्रवाई करते हुए देर रात खनन विभाग ने अवैध बालू तस्करी करते तीन हाइवा को जब्त किया है. साथ ही भारी मात्रा में बालू जब्त किया गया है.

बताया जा रहा है कि खनन विभाग द्वारा जब्त बालू को तोरपा क्षेत्र का चंदन जायसवाल और उसके सहयोगी बेच रहे थे. अवैध बालू के कारोबार में खनन विभाग ने हाल के दिनों में तोरपा क्षेत्र के चंदन जायसवाल उर्फ चंदू के खिलाफ अनुमंडल के विभिन्न थानों में एफआईआर दर्ज कराई है. बावजूद इसके चंदन जायसवाल और उनके सहयोगी लगातार नदियों से बालू का दोहन कर रहे हैं.

खनन विभाग के इंस्पेक्टर सुबोध सिंह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि विभाग द्वारा जब्त बालू को भी माफिया बेच रहे हैं. सूचना पर देर रात जांच की गई. जहां से तीन हाइवा को बालू उठाव करते जब्त किया गया. लेकिन अंधेरा होने के कारण दर्जनों गाड़ियां स्थल से भाग गईं. इसके साथ ही गाड़ी चालक भी मौके से भाग निकले. उन्होंने बताया कि जांच के दौरान तीनों हाइवा को बालू का अवैध परिवहन करते हुए उडिकेल गांव से पकड़ा गया है. जब्त गाड़ी मालिक और चालक के खिलाफ रनिया थाना में सुसंगत धाराओं सहित एनजीटी उल्लंघन का मामला दर्ज कराया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via