Road

स्कूल जाना छोड़ बच्चो ने सड़क( ROAD) माँगा तो भी सरकार की नींद नहीं खुली रामगढ़ से आँख खोल देने वाली रिपोर्ट

 

गुड्डू पांडेय / ROAD  STORY

रामगढ़ जिले के भुरकुंडा का भदानीनगर रेलवे साईडिंग सड़क (ROAD) की कहानी कुछ अजीब है वहां की विधायक और सांसद सभी को पता है की सड़क जर्जर है लेकिन किसी ने कोई कदम नहीं उठाया तब थक हार कर स्कूल जाने वाले बच्चो ने सड़क की मांग को लेकर प्रदर्शन किया ये इंडिया में पहला ऐसा विरोध होगा जिसमे बच्चे स्कुल जाने के लिए सड़क की मांग करते नजर आये और उनकी मांग का सरकारी महकमोंमें तो कोई असर नहीं हुआ लेकिन उस सड़क के जरिये पैसा कमाने वालो ने सड़क की मररम्मति जरूर कराइ।

एक बाइक पर अपने परिवार को लेकर जाते हुए यह युवक कैसे गड्ढे में फंसकर गिर जाता है वह आप देखिये गनीमत यह रही की बच्चे को कोई चोट नहीं आई लेकिन ये हादसा इस सड़क पर रोज होता है , भदानीनगर रेलवे साईडिंग का यह सड़क अपने आप में सुर्खियों में है बताया जाता है की 20 किलोमीटर की सड़क इसी तरह पूरी जर्जर है यहाँ आपने जाने वालो को काफी तकलीफ होती है

यहाँ तक के स्कूल के बच्चे इस सड़क के खस्ताहाल होने से काफी तकलीफ में है 15 मिनट में स्कूल पहुंचने की जगह इस सड़क से गुजरने पर बस को घंटे भर लग जाते है कई बच्चो को तो बस के गड्ढो में हिचकोले खाने से पेट में दर्द भी हो जाता है तब थक हार कर नंन्हे नन्हे बच्चो ने स्कूल जाना छोड़ सड़क बनाने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया लेकिन सरकार के कानो में जूं तक नहीं रेंगी।

तब कुछ समाज सेवी और उस सड़क के जरिये पैसा कमाने वालो ने भदानीनगर रेलवे साईडिंग क्षेत्र की बदहाल सड़क को आवागमन लायक बनाया गया। यह अभियान लगभग पूरे दिन चला। साईडिंग की ओर से उपलब्ध पेलोडर के माध्यम से सड़क में उभरे जानलेवा गड्ढों को भरा गया। यही नहीं, मतकमा चौक से लादी मोड़ तक कई जगह सड़क को समतल भी किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share via
हिन्दी हिन्दी English English
Live Updates COVID-19 CASES